मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान का अर्थ एवं परिभाषा Mental Hygiene

प्रस्तावना :-

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान एक ऐसा विज्ञान है जो व्यक्तियों में मानसिक स्वास्थ्य को मजबूत करने और मानसिक बीमारी को रोकने से संबंधित तथ्यों को उजागर करता है। अतीत में मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान की चर्चा का प्रसंग मिलता हैं, लेकिन इसकी वैज्ञानिक शुरुआत किलफोर्ड बीयर्स ने की थी।

बीयर्स येल विश्वविद्यालय से स्नातक थे, जो अनावश्यक मानसिक तनाव के कारण आत्महत्या करना चाहते थे, लेकिन उन्हें आत्महत्या करने की अनुमति नहीं थी। जब वे मानसिक रूप से स्वस्थ होकर निकले तो उन्होंने 1908 में अपनी आत्मकथा लिखी, जिसमें उन्होंने अस्पताल में उनके साथ हुए अमानवीय व्यवहार का भी जिक्र किया।

परिणामस्वरूप, उस समय मानसिक अस्पतालों में रोगियों के साथ मानवीय व्यवहार के विरुद्ध एडॉल्फ मायर्स के नेतृत्व में एक आंदोलन चलाया गया, तभी से मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान का विधिवत उपयोग किया जाने लगा। मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान के लिए पहला संघ भी 1911 में स्थापित किया गया था। 1919 में, संयुक्त राज्य अमेरिका में स्वास्थ्य विज्ञान के लिए एक राष्ट्रीय संघ बनाया गया था और बाद में इसे अंतर्राष्ट्रीय समिति में बदल दिया गया।

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान का अर्थ :-

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान का शाब्दिक अर्थ मानसिक क्रियाओं से संबंधित स्वस्थ या रोगमुक्त स्थिति बनाए रखने का विज्ञान है। जिस प्रकार शारीरिक स्वास्थ्य शरीर को स्वस्थ रखने के लिए नियम और उपाय बनाता है, उसी प्रकार मानसिक स्वास्थ्य मन को स्वस्थ रखने के लिए नियम और उपाय बनाता है।

इस प्रकार हम कह सकते हैं कि मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान वह विज्ञान है जो मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने, मानसिक रोगों को दूर करने तथा इन रोगों से बचाव के उपाय बताता है। मानसिक स्वास्थ्य का कार्य केवल मानसिक चिकित्सकों के हाथ में नहीं है। इसमें शिक्षकों, माता-पिता, संरक्षकों, समाज सुधारकों और साधु-संतों जैसे धार्मिक लोगों का भी महत्वपूर्ण योगदान है।

सच तो यह है कि मानव मनोविज्ञान के ज्ञान और अंतर्दृष्टि से कोई भी व्यक्ति मानसिक स्वास्थ्य में सहायक हो सकता है।

मानसिक स्वास्थ्य की परिभाषा :-

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान को और भी स्पष्ट करने के लिए कुछ प्रमुख विद्वानों की परिभाषाओं का उल्लेख कर सकते हैं –

“मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान का अर्थ है मानसिक स्वास्थ्य की रक्षा करना और मानसिक अव्यवस्थापन को दूर करने से है।”

ड्रेबर

“मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान वह विज्ञान है जिसका संबंध मानव कल्याण से है और जो मानव संबंधों के सभी क्षेत्रों को प्रभावित करता है।”

क्रो एव क्रो

“मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान व्यक्ति की कठिनाइयों को दूर करने में मदद करता है और कठिनाइयों को समाधान करने के लिए साधन प्रस्तुत करता है।”

ए.जे. रोजानफ

“मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान नियमों का एक समूह है जो किसी व्यक्ति को स्वयं और दूसरों के साथ शांति से रहने में योग्य बनाता है।”

कालसनिक

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान के उद्देश्य :-

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान के विशिष्ट उद्देश्य इस प्रकार हैं:

मानसिक रोग का इलाज –

यदि कोई व्यक्ति मानसिक रोग का शिकार हो गया है तो उचित उपायों से उस व्यक्ति के रोग का उपचार करें और उसे फिर से एक स्वस्थ व्यक्ति बनाएं। ऐसा करने के लिए मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान उन सभी तरीकों का उल्लेख करता है जिनका उपयोग नैदानिक मनोवैज्ञानिक और मनोचिकित्सक करते हैं।

मानसिक रोगों से बचाव –

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान में उन सभी उपायों का वर्णन किया गया है जिनसे व्यक्ति को किसी भी प्रकार की मानसिक बीमारी या मानसिक रोग नहीं होता है। उनके लिए यह विज्ञान मानसिक तनाव को कम करने और मानसिक द्वंद्वों से छुटकारा पाने के मनोवैज्ञानिक और अन्य तरीकों का विस्तार से वर्णन करता है। इन तरीकों को अपनाकर व्यक्ति खुद को चिंता और संघर्ष से दूर रखता है।

मानसिक स्वास्थ्य की सुरक्षा –

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य की रक्षा करता है। मानसिक विज्ञान के माध्यम से कोई भी व्यक्ति व्यक्तिगत, सामाजिक और सांवेगिक समायोजन करके अपने मानसिक स्वास्थ्य को ठीक से बनाए रख सकता है।

अपनी आंतरिक शक्तियों का अनुभव कराना –

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान का एक मुख्य उद्देश्य व्यक्ति को उसके भीतर छिपी आंतरिक शक्तियों से परिचित कराना है ताकि व्यक्ति स्वयं को सही परिप्रेक्ष्य में समझ सके और मानसिक स्वास्थ्य की बागडोर को मजबूत कर सके।

व्यक्तियों सामान्य धारणा में परिवर्तन लाना –

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान का एक उद्देश्य आम लोगों की इस धारणा को गलत साबित करना है कि मानसिक बीमारी लाइलाज है। मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान के कारण आम लोगों की वह पुरानी धारणा बदलने जा रही है जिसमें वे सोचते थे कि मानसिक बीमारी पाप का परिणाम है और यह एक प्रकार की लाइलाज बीमारी है।

मानसिक अस्पताल की अवस्थाओं में सुधार लाना –

मानसिक अस्पतालों में रोगियों के साथ मानवीय संबंधों में सुधार किया जाना चाहिए, क्योंकि यह विज्ञान मानसिक बीमारी को एक बीमारी मानता है, न कि भूत-पिशाच का प्रकोप। जब तक उनके साथ मानवीय व्यवहार नहीं किया जाएगा, उनकी बीमारी ठीक नहीं होगी।

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान के मुख्य तथ्य :-

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान के निम्नलिखित प्रमुख पहलू हैं:-

  • मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान मूलतः एक शैक्षिक कार्यक्रम है।
  • मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान में मानसिक और सांवेगिक कठिनाइयों का प्रारंभिक अवस्था में ही पता लगा लिया जाता है।
  • मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान मानसिक बीमारियों को जल्द से जल्द पहचानने और उनका इलाज करने पर जोर देता है।
  • मानसिक विज्ञान में आधुनिक समाज के सदस्य के रूप में रहने वाले व्यक्तियों पर अधिक जोर दिया जाता है।
  • इस विज्ञान में व्यक्तियों के मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए उचित जीवन स्थितियों पर भी जोर दिया जाता है।
  • इस विज्ञान में मानसिक रोगियों के प्रति आम लोगों में वस्तुनिष्ठ एवं सहानुभूतिपूर्ण मनोवृत्ति विकसित करने का हर संभव प्रयास किया जाता है।

FAQ

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान क्या होता है?

मानसिक स्वास्थ्य विज्ञान के उद्देश्य बताइए?

Share your love
social worker
social worker

Hi, I Am Social Worker
इस ब्लॉग का उद्देश्य छात्रों को सरल शब्दों में और आसानी से अध्ययन सामग्री उपलब्ध कराना है।

Articles: 553

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *